डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ? हिंदी में जाने

इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ? हिंदी में जाने |

आप इन्टरनेट पर बहुत सारी चीजें सर्च किये होंगे | आप जब भी कुछ सर्च करते है तो आपको

लैपटॉप या डेस्कटॉप के ब्राउज़र में किसी नाम के साथ .com या .in या .net या .org या .ऑनलाइन

आदि दिखाई देता होगा | क्या आपको पता है कि ये सब क्या है | इसी को हम किसी भी वेबसाइट का डोमेन नाम कहते है |

डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ? हिंदी में जाने
डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ? हिंदी में जाने

उदहारण के लिए अगर किसी वेबसाइट जैसे www.yourexamplewebsite.com में

आगे .com लगा हुआ है तो और इस तरह से आप भी जब अपनी वेबसाइट बनाना चाहते है तो

इसके लिए आपको वेबसाइट का नाम दिलानेवाली कंपनी से डोमेन नाम खरीदना होगा |

डोमेन नाम किसे कहते है हिंदी में जाने

जब भी आप इन्टरनेट पर कुछ सर्च करते है तो वहां पर आपको www या https करके लिखा

आता है और उसके आगे वेबसाइट का नाम होता है | यह नाम उस वेबसाइट का नाम होता है |डोमेन का क्या मतलब होता है ?

हरेक डोमेन नाम के अन्दर एक IP एड्रेस होता है जिसे याद रख पाना कठिन होता है जिस कारण इसका उपयोग किया जाता है | यह सिस्टम एक प्रकार

का फंक्शन है जिसकी मदद से आपकी वेबसाइट आई.पी . एड्रेस के द्वारा किसी सर्वर से

recognize होकर यूजर के स्क्रीन पर या डेस्कटॉप पर दिखाई देता है | अब आप डोमेन नाम सिस्टम ,इन हिंदी जान गए होंगे |

डोमेन के कितने प्रकार होते है ?

दोस्तों ! डोमेन के मुख्यतः दो भागो में बांटा गया है जो इस प्रकार है :

  1. Top लेवल डोमेन (TLD )

Top लेवल डोमेन वैसे डोमेन को कहते है जिसका एक्सटेंशन .com , .gov .net , .org , .edu

अब आपके मन में सवाल आ रहा होगा कि इसे top लेवल डोमेन क्यों कहते है ? इसे TLD इसलिए कहते है क्यूंकि इसका

उपयोग सारे संसार में किया जाता है और व्यापक रूप से किया जाता है |

2. न्यू top लेवल डोमेन (ccTLD )

यह एक नया top लेवल डोमेन है जिसे हम country कोड top लेवल डोमेन कहते है |जैसा कि इसके नाम

से स्पष्ट है कि यह डोमेन किसी country से रिलेटेड है | इसका मतलब ये है कि इसके एक्सटेंशन में

किसी देश का नाम के लिए निरुपित किया जाता है |

न्यू top लेवल डोमेन (ccTLD ) के एक्सटेंशन मुख्यतः .in – India, .us – United State, .ch – Switzerland, .ru – Russia, .nz – New Zealand और अन्य होते है |

डोमेन नाम सिस्टम हिंदी में जाने (Domain Name Sysytem)

Domain Name System (DNS) official नाम सर्वर के आईपी (I.P- Internet Protocol)

पते की पहचान करके इसके नाम तय करने और उन नामों का पता लगाने के कार्य को बांटती है।

आधिकारिक नाम सर्वर अपने विशेष डोमेन के लिए जवाबदेह होते हैं और बदले में, अपने उप डोमेन or

सब -डोमेन को अतिरिक्त official नाम सर्वर असाइन कर सकते हैं।

यह दृष्टिकोण सेंट्रल D.N.S वितरण रजिस्ट्री की आवश्यकता को समाप्त करता है। क्लाइंट-सर्वर

दृष्टिकोण वाला एक वितरित डेटाबेस सिस्टम डोमेन नाम सिस्टम को control करता है।

डोमेन खरीदते समय हमें किस बात का ध्यान रखना चाहिए ?

अगर आप अपनी वेबसाइट के लिए ब्रांड नाम खरीदना चाहते है तो इससे पहले आपको बहुत सारी बातों का ध्यान रखना होगा

क्यूंकि अगर आप किसी वेबसाइट नाम को ऐसे ही चुन लेते है बिना कोई सर्च किये या रिसर्च किये तो

शायद आपकी वेबसाइट अच्छा परफॉरमेंस ना करे |

वेबसाइट के नाम चुनते समय या लेते समय हमें किस बात का ध्यान रखना चाहिए ? ये बहुत ही जरूरी है |

डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ? हिंदी में जाने , शायद आपके वेबसाइट को

प्रसिद्धि न मिले या वेबसाइट को रैंक करने में देरी और कठिनाई हो तो इससे पहले आपको कुछ बातों का ध्यान देना जरूरी है |

डोमेन खरीदते समय किन जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए ?

नीचे कुछ टिप्स दिए गए है जिसकी मदद से आप जान पायेंगे कि डोमेन नाम कैसे बनाये ?

लेते समय हमें किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ?

  • यूनिक डोमेन – जी हाँ ! आपको एक यूनिक डोमेन नाम चुनना होगा | आपको ऐसे डोमेन को नहीं लेना है जो पहले से इन्टरनेट पर
  • उपलब्ध हो या वो पोपुलर हो | इसलिए अपना डोमेन नाम सबसे अलग ही चुने |
  • सिंपल एंड शोर्ट – डोमेन को बिलकुल ही सिंपल और शोर्ट रखना चाहिए , इससे दो लोगो को फायदा होगा :-
  • पहला वेबसाइट ओनर यानी आपको और दूसरा यूजर को यानी ऑडियंस को |
  • डोमेन नाम शोर्ट रखने से फायदा ये होगा की यूजर आसानी से आपकी वेबसाइट को याद रख सकेंगे|
  • अपनी category के अनुसार- ये पॉइंट आपके लिए बहुत जरूरी है और महत्वपूर्ण भी है क्यूंकि यह
  • आपका ब्रांड भी बन सकता है और आप जिस category को चुनेंगे उसे गूगल सर्च रैंक में भी लाएगा |
  • जिस भी niche से आप अपनी वेबसाइट तैयार करना चाहते है उसी से रिलेटेड अपना डोमेन नाम रखें |
  • readable और रेमेम्बेर- आप डोमेन नाम ऐसा चुने जो हर किसी के जुबान पर हो यानी इसे आसानी से पढ़ा
  • और लिखा जा सके | कठिन डोमेन नाम और लम्बा नाम चुनेंगे तो यूजर को याद रखने में और लिखने में भी कठिनाई होगी |

इस प्रकार आप जान गए होंगे वेबसाइट नाम लेते समय हमें किस बात का ध्यान रखना चाहिए ?

सबसे अच्छा और सस्ता डोमेन नाम कहाँ से ख़रीदे ?

अब आपके मन में सवाल होगा कि सबसे अच्छा और सस्ता डोमेन नाम कहाँ से ख़रीदे ? इसके लिए आपको एक अच्छा डोमेन सर्विस कंपनी

की जरूरत होगी जीसे आपकी वेबसाइट भी काफी अच्छी ढंग से चल सके | बहुत सारी कंपनियां

sell करती है जिसकी मदद से आप भी अपनी वेबसाइट के लिए खरीद सकते है |

मैंने कुछ डोमेन सर्विस वाली कंपनियों के नाम बताये है आप उनमे से किसी

भी कंपनी के द्वारा अपना डोमेन नाम buy कर सकते है |

  1. Hostinger
  2. Go Daddy
  3. Big Rock
  4. NameCheap

अगर आपने कभी ब्लॉग्गिंग किया है और आगे भी भविष्य में ब्लॉग्गिंग के फील्ड में अपना करियर बनाना

चाहते है तो आपको एक बार paid डोमेन जरूर खरीदना चाहिए| मैं Hostinger और Go Daddy

recommend करूँगा क्यूंकि इनका कस्टमर सपोर्ट काफी बेहतर है और भी दो Big Rock,

NameCheap से भी अपनी वेबसाइट शुरू कर सकते है लेकिन मुझे Hostinger और Go Daddy अच्छा लगा |

अन्य जानकारियाँ : सबसे सस्ता 5 G मोबाइल कौन सा है ?

गूगल फोटोज से डिलीट हुई फोटो कैसे वापस लाये ?

डोमेन नाम की आवश्यकता क्यों होती है ?

डोमेन नाम की जरूरत क्यों पड़ती है ? ये सवाल आपके मन में आया होगा तो जानते है कि हमें डोमेन नाम क्यों लेना चाहिए ?

इसे आप एक उदहारण के रूप में समझ सकते है – मान लीजिये आपकी कोई कपडे की दूकान है और आप इसे इन्टरनेट की दुनिया

यानी इसे ऑनलाइन ले जाना चाहते है तो इसके लिए आपको दूकान का एक नाम देना होगा जिसे सारी दुनिया इसे देख और जान सके |

इस प्रक्रिया में आपको अपने दूकान के लिए एक डोमेन नाम की जरूरत पड़ेगी |

और आपके कस्टमर या इन्टरनेट यूजर दूकान के बारे में जान सकेंगे कि यहाँ ऑनलाइन कपडा मिलता

है या आप कोई भी business करते हो तो इसके बारे में इन्टरनेट के माध्यम से आपके दूकान का वेबसाइट नाम

सर्च करके लोग जान सकेंगे | इस तरह से आप कोई भी business या आप ब्लॉगिंग करना चाहते हो

तो भी आपको इसकी की जरूरत पड़ती है |

वेबसाइट कैसे बनाये हिंदी में ?

अगर आप अपनी खुद की वेबसाइट बनाना चाहते है तो आप बताये गए प्रक्रिया (वेबसाइट बनाने की विधि ) को फॉलो

करके वेब नाम buy कर सकते है | कुछ होस्टिंग सर्विस प्रोवाइडर कंपनियां होस्टिंग के साथ फ्री में डोमेन नाम

आपको देती है जैसे कि Hostinger.in इस स्टेप्स में आप अगर Hostinger से डोमेन नाम buy करना चाहते है तो इन स्टेप्स को अपनाये :

  • सबसे पहले आप Hostinger की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाये , उसके बाद आपको अपना एक अकाउंट
  • बनाना होगा इसके लिए निचे दिखाए गए चित्र के अनुसार आप login पर क्लिक करे |
डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ? हिंदी में जाने
डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ? हिंदी में जाने
  • अब आप अपने ईमेल अकाउंट से या फेसबुक अकाउंट से आप signup करे, या आप अपना नाम ,
  • ईमेल id और मोबाइल no भी देकर अकाउंट बना सकते है| (नोट: अपने gmail अकाउंट का पासवर्ड अकाउंट बनाते समय न दें , कोई नया पासवर्ड चुने )
डोमेन नाम के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करे ?
डोमेन नाम के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करे ?
चित्र 3
चित्र 4
चित्र 5
  • अकाउंट बनाने के बाद अपना प्लान चुने , जैसा कि figure 3 में बताया गया है , आप कितने सालों वाला होस्टिंग और डोमेन नाम दोनों खरीदना चाहते है |
  • अब proceed to checkout पर क्लिक करने के बाद (चित्र 4 के अनुसार ) अब पेमेंट कर सकते है अपनी वेबसाइट बनाने के लिए |
  • अंत में आपको पेमेंट करने के लिए विभिन्न तरह के विकल्प (fig 5 के अनुसार ) मौजूद होंगे जिनमे से आप किसी से भी जैसे upi,डेबिट कार्ड ,क्रेडिट कार्ड और अन्य मोबाइल वॉलेट की सहायता से पेमेंट कर सकते है |

निष्कर्ष :

इस तरह आप बिलकुल आसानी से डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ? हिंदी में जाने खुद की वेबसाइट बना सकते है |

उम्मीद है डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ? हिंदी में जाने , सबसे अच्छा और सस्ता डोमेन नाम कहाँ से ख़रीदे ? आर्टिकल के माध्यम

से आप अपने लिए एक वेबसाइट बनाने के लिए जानकारी मिली होगी |अगर आप किसी अन्य टॉपिक के बारे में

जानकारी लेना चाहते है या आपके कोई प्रश्न हो तो हमें कमेंट करे |

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे और हमारे सोशल

media लिंक को फॉलो करना न भूले ताकि आपको जरूरी जानकारियां मिलती रहे | धन्यवाद !

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!